Increase |  Decrease |  Normal

Current Size: 100%

Share this
Syndicate content

दक्षिण अमरीका

South America

कोलंबस, अमरीकी इंडियन व मानव प्रगति - 8

हावर्ड ज़िन

[हावर्ड ज़िन रचित 'ए पीपुल्स हिस्टरी ऑफ़ द यूनाइटेड स्टेट्स' (संयुक्त राज्य का जनवादी इतिहास) के प्रथम अध्याय के अनुवाद का अंतिम भाग। अनुवादक: लाल्टू]

वैसे चूंकि ये लोग 25000 साल पहले शायद बेरिंग जलडमरू मार्ग (जो बाद में समुद्र में डूब गया) द्वारा एशिया से अलास्का पहुँचे थे, इसलिए उन्हें इंडियन कहना बहुत बुरा नहीं है। फिर हज़ारों सालों में ऊष्णता व ज़मीन की तलाश में दक्षिण की ओर जाते हुए वे पहले उत्तरी अमरीका, फिर मध्य व दक्षिण अमरीका पहुँचे। निकारागुआ, ब्राज़ील व इक्वाडोर में पाँच हज़ार साल पहले विलुप्त हुए बाइसन के पदचिह्नों के साथ ही उनके भी सूख गए पदचिह्न देखे जा सकते हैं। इससे पता चलता है कि वे दक्षिण अमरीका इतने पहले आ चुके होंगे।

जब कोलंबस पहुँचा, अमरीका महाद्वीप की विस्तृत ज़मीन पर डेढ़-दो करोड़ की तादाद में फैले हुए थे। उत्तरी अमरीका में शायद उनकी संख्या 50 लाख थी। ज़मीन व जलवायु की विविधता के साथ उन्होंने भी विभिन्न संस्कृतियों का विकास किया और शायद दो हज़ार विभिन्न भाषाओं को विकसित किया। उन्होंने कृषि में निपुणता हासिल की और मक्का पैदा करना सीखा, जो अपने-आप नहीं जगता और जिसे बोना व सींचना पड़ता है, खाद देनी पड़ती है, कटाई करनी पड़ती है, फटकना पड़ता है और जिससे छिलका अलग करना पड़ता है। कई किस्म की सब्जियों, फलों, मूंगफली, चॉकलेट, तंबाकू व रबर के उत्पादन में उन्होंने कुशलता दिखलाई।

Syndicate content

लेखक विषय संवाद साभार अनुवादक

पहले वो आए साम्यवादियों के लिए

और मैं चुप रहा क्योंकि मैं साम्यवादी नहीं था

 

फिर वो आए मजदूर संघियों के लिए

और मैं चुप रहा क्योंकि मैं मजदूर संघी नहीं था

 

फिर वो यहूदियों के लिए आए

और मैं चुप रहा क्योंकि मैं यहूदी नहीं था

 

फिर वो आए मेरे लिए

और तब तक बोलने के लिए कोई बचा ही नहीं था

 

मार्टिन नीमोलर (1892-1984)